मुंबई. टीम इंडिया के पूर्व विकेटकीपर मन्नावा श्रीकांत प्रसाद यानी एमएसके प्रसाद टीम इंडिया के नए चीफ सिलेक्टर बनाए गए हैं। वो संदीप पाटिल की जगह लेंगे। उन्होंने 6 टेस्ट और 17 वनडे खेले हैं। जून 2008 में उन्होंने रिटायरमेंट लिया था। बुधवार को मुंबई में बीसीसीआई की एनुअल जनरल मीटिंग में ये फैसला लिया गया। इसके अलावा अजय शिर्के को फिर से BCCI का सचिव बनाया गया है। बीसीसीआई ने लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों को सिलेक्टर्स चुनते वक्त नहीं माना। पैनल के बाकी चार मेंबर्स कौन…
– प्रसाद के अलावा सिलेक्शन कमेटी के चार और मेंबर जतिन परांजपे, देवांग गांधी, सरनदीप सिंह और गगन खोड़ा हैं।
– प्रसाद के साथ ही गगन खोड़ा पिछले एक साल से सीनियर सिलेक्शन कमेटी के मेंबर थे।
– वहीं, वर्तमान में जूनियर सिलेक्शन कमेटी के चेयरमैन वेंकटेश प्रसाद भी इस रेस में थे।
– इसके अलावा आशीष कपूर को जूनियर सिलेक्शन कमेटी में शामिल किया गया है।

– मीटिंग में अजय शिर्के निर्विवाद रूप से दोबारा बीसीसीआई के सचिव चुने गए। उन्हें जुलाई, 2016 में अनुराग ठाकुर की जगह ये पद मिला था।

– तब शशांक मनोहर के स्थान पर अनुराग ठाकुर बीसीसीआई के प्रेसिडेंट बनाए गए थे।
प्रसाद और खोड़ा का कंट्रीब्यूशन
– प्रसाद ने 6 टेस्ट में सिर्फ 11.77 की एवरेज से 106 रन बनाए। कोई सेंचुरी या हाफ सेंचुरी उनके नाम नहीं है।
– प्रसाद के वनडे रिकॉर्ड की बात करें तो उन्होंने कुल 17 वनडे खेले। 14.55 की एवरेज से 131 रन बनाए। एक हाफ सेंचुरी (63) उनके नाम दर्ज है।
– 10 अक्टूबर 1999 को उन्होंने डेब्यू किया था। जनवरी 2000 में आखिरी टेस्ट खेला।
– प्रसाद और गगन खोड़ा पहले से सिलेक्शन पैनल में थे। प्रसाद आंध्र प्रदेश से आते हैं। जबकि खोड़ा राजस्थान से।
बीसीसीआई ने नहीं मानी लोढ़ा कमेटी की सिफारिशें
– बीसीसीआई ने सिलेक्शन पैनल बनाते वक्त सुप्रीम कोर्ट द्वारा अप्वाइंट की गई लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों को नहीं माना। लोढ़ा कमेटी ने कहा था कि तीन लोगों का मजबूत पैनल होना चाहिए और इसके सभी मेंबर्स के पास टेस्ट प्लेइंग एक्सपीरिएंस मेंडेटरी हो।
– फिलहाल, जो सिलेक्शन कमेटी है, उसके दो मेंबर्स टेस्ट नहीं खेले हैं। जतिन परांजपे ने 4 जबकि राजस्थान से आने वाले गगन खोड़ा ने सिर्फ 2 वनडे खेले हैं।
ये भी रोचक
टेस्ट के लिहाज से
– जो नई सिलेक्शन कमेटी बीसीसीआई ने बनाई है, उसके सभी मेंबर्स ने कुल मिलाकर 13 टेस्ट खेले हैं।
– टीम इंडिया के टेस्ट कप्तान विराट कोहली अकेले ही इस पैनल पर भारी हैं। विराट ने 45 टेस्ट खेले हैं।
वनडे के लिहाज से
– सभी सिलेक्टर्स का कम्बाइंट वनडे एक्सपीरिएंस 31 मैचों का है।
– टीम इंडिया के वनडे कप्तान एमएस धोनी अकेले ही 278 वनडे खेल चुके हैं।कितने लोगों के इंटरव्यू?
– सीनियर, जूनियर और वुमंस टीम के लिए नेशनल सिलेक्शन कमेटी बनाने के लिए बोर्ड ने दो दिन में 90 कैंडिडेट्स के इंटरव्यू लिए।

ये हैं तीन नए मेंबर्स

1. सरनदीप सिंह
– दिल्ली के इस ऑफ स्पिनर ने 3 टेस्ट में 10 विकेट लिए। एवरेज 34.00 रहा। 136 रन पर 4 विकेट बेस्ट बॉलिंग रही।
– 5 वनडे में 60 की एवरेज से 3 विकेट लिए।
2. जतिन परांजपे
– मुंबई के लेफ्ट हैंडर बैट्मेन हैं। 4 वनडे में 18 की एवरेज से 54 रन बनाए। टेस्ट नहीं खेले।
3. देवांग गांधी
– 45 साल के देवांग गुजरात से आते हैं। 4 टेस्ट में 34 की एवरेज से 204 रन बनाए। 88 बेस्ट स्कोर रहा।
– 3 वनडे में 16.33 की एवरेज से 49 रन बनाए। 30 हाइएस्ट रहा।
क्या थीं बीसीसीआई की शर्तें
– सीनियर टीम का सिलेक्टर बनने के लिए बीसीसीआई ने कड़ी शर्तें रखी थीं। एप्लीकेंट की उम्र 60 साल से ज्यादा नहीं होनी चाहिए।
– ये भी जरूरी है था उसे क्रिकेट छोड़े हुए पांच साल या ज्यादा वक्त हो गया हो। क्रिमिनल रिकॉर्ड नहीं होना चाहिए।
– ये भी देखा गया कि एप्लीकेंट आईपीएल टीम, कोचिंग एकेडमी या मीडिया हाउस से जुड़ा न हो।
किसके पास कितना एक्सपीरियंस
मेंबर क्या थे टेस्ट वनडे
एमएसके प्रसाद विकेटकीपर 6 17
देवांग गांधी बैट्समैन 4 3
गगन खोड़ा बैट्समैन 2
सरनदीप सिंह ऑलराउंडर 3 5
जतिन परांजपे बैट्समैन 4