झारखंड के पूर्व मुख्य मंत्री मधु कोड़ा को दिल्ली की विशेष अदालत ने कोयला घोटाले में दोषी करार दिया है.इस में उनके साथ पूर्व कोयला सचिव एचसी गुप्ता, झारखंड के पूर्व चीफ सेक्रेटरी अशोक बासु और एक अन्य को साजिश और आपराधिक षड्यंत्र रचने का दोषी पाया है | इस मामले पर फैसला गुरुवार होगा |

न्यायाधीश भरत पराशर ने बुधवार सभी आरोपियों को फैसला सुनाते वक़्त अदालत में मौजूद रहने का आदेश दिया था यह मामला झारखंड में राजहरा नार्थ कोयला ब्लॉक को कोलकाता की विनि आयरन एन्ड स्टील उद्योग लिमिटेड को आवंटित करने में कथित अनियमित्ताओ से संबंधित है   |

सीबीआई के आरोप-पत्र में मधु कोड़ा , सहित एचसी गुप्ता और अन्य आरोपी झारखंड के मुख्य सचिव मिस्टर बासु ,लोक सेवक बसंत कुमार ,बिपिन बिहारी सिंह वीआईएसयूएल के निदेशक वैभव तुलस्यान,विजय जोशी और C.A. नविन कुमार का नाम शामिल है |

सीबीआई ने आरोप लगाया की झारखंड सरकार और इस्पात मंत्रालय ने वीआईएसयूएल को कोयला खंड आवंटन करने की अनुशंषा नहीं की थी उस समय अन्विषन समिति ने आरोपित कंपनी को खंड आवंटित करने की सिफारिश की गयी थी |