नई दिल्ली : केजरीवाल सरकार ने दिल्ली के स्मॉग से निपटने के लिए कमर कस ली है | अब एंटी स्मॉग गन के द्वारा जहरीली हवा से निपटने की कोशिश चल रही है अभी सिर्फ दिल्ली में इसकी टेस्टिंग चल रही है , यह गन पानी की टंकी से जुड़ी हुई है जब इसको चलाया जाता है तो इसमें से पानी की बिलकुल बारीक़ बौछार बाहर आती है जिससे हवा में जो जहरीली धूल के कण जो प्रदूषण को बढ़ाते है उनको पानी के बारीक़ कण निचे गिरा देते है |

अभी इसका टेस्ट दिल्ली के सेक्रेटेरियट में किया गया है | टेस्टिंग के समय उपमुख़्यमंत्री मनीष सिसोदिया और पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन मौजूद थे .अधिकारियो की माने तो इस डिवाइस का उपयोग  करने के लिए अभी और टेस्टिंग करनी है इस डिवाइस की कीमत 20 लाख रूपए बताई गयी है स्मॉग गन की निर्माता कम्पनी क्लाउड टेक का कहना है इसकी  बौछार 50 मीटर ऊपर तक जा सकती है |

दिल्ली के आनद विहार इलाके को सबसे प्रदूषित माना जाता है, इसलिए यहां पर भी स्मॉग गन की टेस्टिंग की गयी है ये उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद से सटा हुआ एरिया है | कहा जा रहा है की आनंद विहार की हवा में एंटी स्मॉग गन का ट्रायल अगर सफल होता है तो प्रदूषण से निपटने के लिए एक बड़ा औजार मिल जायगा जो दिल्ली में तो होगा ही साथ ही पुरे भारत के लिए एक अच्छी खबर साबित हो सकती है | स्मॉग से निपटने के लिए दिल्ली सरकार ने कई योजनाओ की घोषणा की थी ,जिसमे ओड-इवन ,अधिकांश कमर्सिअल वाहनों पर प्रतिबंद, निर्माण गतिविधियों को रोकना और कार पार्किंग शुल्क में वृद्धि आदि शामिल थी |