देवरिया : उत्तरप्रदेश के देवरिया जिले के खुखुंदू थाना क्षेत्र में स्थित श्री राम जानकी मंदिर से 13 बेशकीमती मुर्तिया मंगलवार रात को चोरी हो गयी | मुर्तिया अष्टधातु से निर्मित बताई जा रही है जो तकरीबन 300 साल पुरानी है पुलिस के मुताबिक जब मंदिर के पुजारी कामेश्वर पांडेय बुधवार को सुबह जब मंदिर पहुंचे तो चोरी का पता चला पुलिस मामले की छानबीन में लगी हुई है लोगो से पूछताछ की जा रही है पुलिस ने बताया की राम जानकी मंदिर रुपई गांव में पवहारी महाराज की कुटी द्वारा संचालित प्राचीन नवग्रह मंदिर है |
बुधवार को जब पुजारी जी मंदिर पर पूजा करने पहुंचे तो गर्भगृह का ताला टुटा हुआ मिला पुजारी ने जब अंदर जाकर देखा तो वहा पर मुर्तिया नहीं थी, जिनमे श्री राम , लक्ष्मण, सीता, श्री कृष्ण समेत अन्य देवी देवताओ की मुर्तिया थी जिन्हे नवग्रह कहा जाता है | इस घटना की सुचना पंडित जी ने तुरंत पुलिस और मंदिर प्रबंधक अंगद तिवारी को दी ,
पुजारी जी के अनुसार मुर्तिया अष्टधातु से निर्मित थी जिनकी कीमत लगभग 40-50 लाख तक है वही स्थानीय लोगो का कहना है की यह मंदिर बैकुंठपुर स्थित मंदिर से तकरीबन सौ साल पुराना है, इस बीच थाना अध्यक्ष मृत्युंजय पाठक ने बताया की मंदिर के प्रबंधक अंगद तिवारी ने मूर्ति मामले में रिपोर्ट दी है | पुलिस मामले की छानबीन में लगी हुई है |