आजकल देखा जाए तो स्मार्टफोन हर किसी की पंसद बनता जा रहा हे और सबसे खास बात हे  स्मार्टफोन के फीचर |

स्मार्टफोन यूजर्स के लिए फोन की बैटरी एक मुख्य फीचर है। फोन खरीदते समय यूजर्स बैटरी बैकअप पर खास ध्यान देते हैं। यूजर्स की जरुरतों को मद्देनजर रखते हुए ही स्मार्टफोन निर्माता कंपनियां फोन की बैटरीज पहले से ज्यादा दमदार बना रही हैं जिससे उन्हें बेहतर बैटरी बैकअप मिल सके। पूरा दिन फोन को चार्ज करने का समय शायद ही मिल पाता हो इसलिए ही यूजर्स फोन को फुल चार्ज करने के लिए फोन को पूरी रात चार्जिंग पर लगा कर  छोड़ देते हैं। बिना यह जाने की यह कितना हानिकारक साबित हो सकता है। इस पोस्ट में हम आपको इसी बात की जानकारी देने जा रहे हैं कि पूरी रात फोन को चार्जिंग पर छोड़ना कितना सही है और कितना खतरनाक हो सकता हे आपके  लिए |

एक्सपर्ट्स की मानें तो फोन को चार्जिंग पर लगाकर उसके पास सोना बेहद हानिकारक सिद्ध हो सकता है। ईको-आर्किटेक्टर फर्म के डेविड गेल के मुताबिक, हमारा नर्वस सिस्टम कम वोल्टेज इलेक्ट्रिसिटी पर काम करता है। हमारा दिमाग किसी भी बात को मासपेशियों तक पहुंचाने के लिए इलेक्ट्रीसिटी का इस्तेमाल करता है। कुछ लोगों के मामले में घर की बिजली और हमारे दिमाग की इलेक्ट्रिसिटी का टकराव हो सकता है। इसके अलावा फोन को पूरी रात चार्ज करने से फोन डैमेज हो सकता है। इसके अलावा कभी भी फोन को चार्जिंग पर लगाकर तकिए के नीचे नहीं रखना चाहिए इससे आग लगने का खतरा बढ़ जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि चार्जिंग के समय बैटरी गर्म हो जाती है। इससे आग लगने की संभावना होती है। और पूरी  रातभर  लगातार फोन को फुल चार्ज करना बैटरी की लाइफ पर असर डालता है। तो आज से आप भी इस बात से  सावधान रहिए और अपने फ़ोन को पूरी रातभर चार्जिंग पर न लगाए |