आजकल क्रिकेट की बात करे तो ऑस्ट्रेलिया टीम को कौन नहीं जनता हे विश्व की नम्बर वन की टीम कही जाने वाली कंगारू टीम का अभी देखा जाए तो उनका समय काफी ख़राब चल रहा हे , बता दे की ताजा वनडे रैंकिंग की लिस्ट में ऑस्ट्रेलिया की टीम छठे नंबर पर है
आईसीसी की ताजा वनडे रैंकिंग जारी होने के बाद ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट में हाहाकार सा मच गया है. आपको बता दें 34 साल के बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम वनडे रैंकिंग में टॉप 5 से बाहर हुई है. साल 1984 में ऑस्ट्रेलिया की वनडे रैंकिंग नंबर 6 थी. इंग्लैंड के खिलाफ 5 मैचों की वनडे सीरीज के शुरुआती 2 मुकाबले हारने के बाद ऑस्ट्रेलिया की रैंकिंग में जबर्दस्त गिरावट आई. ऑस्ट्रेलिया का वनडे रिकॉर्ड खासा खराब रहा है. कंगारू टीम पिछले 13 मैचों में से 11 मैच हारी है.
अभी देखा जाए तो आईसीसी की वनडे रैंकिंग में नंबर 1 पर इंग्लैंड है. टीम इंडिया दूसरे, साउथ अफ्रीका तीसरे, न्यूजीलैंड चौथे और पाकिस्तानी टीम 5वे नंबर पर है

और लगातार सामने आ रहे बॉल टेंपरिंग के मामलों पर लगाम लगाने के लिए आईसीसी कड़े कदम उठाने वाली है. खबरों के मुताबिक इस महीने के आखिर में होने वाली सालाना कॉन्फ्रेंस में आईसीसी गेंद से छेड़छाड़ के मामलों में कठोर सजा की पैरवी करेगी. आईसीसी इस तरह के अपराधों को लेवल दो से, लेवल तीन का करने पर विचार कर रही है. अभी तक लेवल दो के अपराध में एक टेस्ट या दो वनडे के लिये प्रतिबंध का प्रावधान है जबकि लेवल तीन में खिलाड़ी पर चार टेस्ट या आठ वनडे का प्रतिबंध लगाया जाता है. हाल ही में बॉल टेंपरिंग मामले में ऑस्ट्रेलिया के स्टीवन स्मिथ, डेविड वॉर्नर और कैमरन बैनक्रॉफ्ट दोषी पाए गए थे ऐसे मामलों को देखते हुवे आईसीसी यह कदम उठा सकती है |